• image

सभी के लिए मुफ्त क्लेफ्ट लिप और क्लेफ्ट पलेट ऑपरेशन में एस.एस.बी. की पहल

    भारत-नेपाल सीमा तथा भारत-भूटान सीमा पर पाया जाने वाला समान तत्व- गरीबी है.  इनमें से अनेक सीमावर्ती लोगों में क्लेफ्ट लिप (कटे हुए होठं) और क्लेफ्ट पलेट (कटे हुए तालू) की समस्या प्रमुख है . गर्भावस्था के दौरा फोलिक एसिड और भरपेट अच्छा खाना न मिल पाने के कारण इन समस्याओं से ग्रस्त बच्चे पदा होते हैं .  इसे 45 मिनट के ऑपरेशन द्वारा दूर किया जा सकता ह सीमावर्ती क्षेत्रों में इस समस्या से कई व्यिक्त ग्रसित हैं किंतु उनके पास इसके इलाज के लिए पैसे नहीं हैं .  एस.एस.बी. ने इन समस्याओं से ग्रस्त व्यिक्तयों की मदद के लिए कदम उठाए .  SSB ने सीमावर्ती क्षेत्रों में लोगों के बीच इस समस्या से बचने के बारे में जागरुकता लाने का प्रयास भी किया .

    सितम्बर 2014 में, सशस्त्र सीमा बल ने सीमा सुरक्षा बल (BSF), कोलकाता पुलिस और कोलकाता-विक्टोरिया रोटरी क्लब के साथ मिलकर 'दर्पण' नामक पहल की जिसके अंतर्गत भारत-नेपाल, भारत-भूटान सीमा पर अपनी जिम्मेदारी के क्षेत्र में मुफ्त क्लेफ्ट लिप और क्लेफ्ट पैलेट के ऑपरेशन कराए गए .  'स्माइल ट्रेन इंटरनेशनल' को इसके लिए सूचीगत किया गया क्योंकि वे 80 देशों में ऐसे ऑपरेशन करवा रहे थे . सिलिगुड़ी फ्रंटीयर मुख्यालय ने अपनी यूनिटों के डाक्टरों और कर्मिकों को इस समस्या से ग्रस्त व्यिक्तयों की सूची बनाने के लिए तनात किया . इस प्रोजेक्ट के दौरान इन जन्मजात कमियों से ग्रस्त व्यिक्तयों की जाँच की गई तथा विशेषज्ञों की टीम द्वारा उन्हें भारत-नेपाल और भारत-भूटान सीमा के समीप स्थित नामी नर्सिंग होम/अस्पतालों में ऑपरेशन की सिफारिश की गई .

    SSB ने भारत-नेपाल सीमा और भारत-भूटान सीमा पर क्लेफ्ट लिप और क्लेफ्ट पलेट प्रभवित लोगों के चेहरों पर मुस्कान लाने का संकल्प लिया है .  बल के आधिकारी, सीमावर्ती स्कूल, कालेज का दौरा कर रहे हैं, गावों, बाजारों, पंचायतों में लोगों से मिलकर 'मुफ्त क्लेफ्ट लिप और क्लेफ्ट पलेट के ऑपरेशन' के विषय में जानकारी का प्रचार कर रहे हैं .

    औपचरिक रुप से कार्यक्रम की शुरुआत SSB सिलिगुड़ी फ्रंटीयर मुख्यालय के महनिरीक्षक श्री कुलदीप सिंह, भा.पु.सेवा द्वारा 15 सितम्बर 2014 को की गई थी तथा आनंदलोक अस्पताल और न्यूरोसाइंस, सिलिगुड़ी, पश्चिम बंगाल में ऑपरेशन कराए गए थे . सिलिगुड़ी फ्रंटीयर ने 23 सितम्बर 2014 से 26 सितम्बर 2014 तक उक्त अस्पताल में 7 मरीजों के ऑपरेशन कराए . आज तक सिलिगुड़ी फ्रंटीयर ने आनंदलोक और गुड़रिक अस्पताल में 29 मरीजों के ऑपरेशन करवाए हैं .

    SSB ने 'स्माइल ट्रेन इंडिया' के साथ मिलकर क्लेफ्ट लिप व पलेट से ग्रस्त मरीजों की पहचान करने में योगदान दिया ह जिससे कोई भी व्यक्ति बिना उपचार के न छूटे . स्माइल ट्रेन तक क्लेफ्ट से ग्रस्त हर व्यक्ति तक पहुचने के प्रयास में, SSB का अथक योगदान अतुलनीय है . इससे SSB को स्माइल ट्रेन तथा लाभार्थी दोनों ओर से सराहना और कृतज्ञता मिली है .

    वर्ष 2010 में स्माइल ट्रेन इंडिया के एक कार्यक्रम में भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति तथा स्माइल ट्रेन के राजदूत स्वर्गीय डा. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम ने स्माइल ट्रेन की प्रशंसा करते हुए कहा था- 'अभी बहुत लंबा सफर तय करना ह, तथा सुहृदयों को इस मिशन में सहयोग करना चहिए' .   

फ्रंटीयर मुख्यालय लखनऊ ने 11 नवम्बर 2014 को प्रथम कैंप आयोजित किया जिसमें 8 बच्चों का ऑपरेशन किया गया . 40 मरीजों का ऑपरेशन सुश्रुत इंस्टीट्यूट ऑफ  प्लास्टिक सर्जरी, बर्न एण्ड ट्रोमा सेंटर लखनऊ, सवित्री अस्पताल गोरखपुर और के जी एम यू लखनऊ में किया गया .

 

    पटना फ्रंटीयर ने 30 ऑपरेशन करवाए जिसमें से 04 बच्चों का ऑपरेशन 09 दिसम्बर 2015 को पटना के रबिया बसरी अस्पताल में तथा शेष 26 का 18 व 19 जनवरी को खुरजी होली फैमली अस्पताल और रबिया बसरी अस्पताल में ऑपरेशन किया गया .

    गुवाहाटी फ्रंटीयर मुख्यालय ने गुवाहाटी के इंस्टीट्यूट ऑफ चाइल्ड एण्ड वूमेन हेल्थ केयर में 14 मरीजों का ऑपरेशन करवाया . रानीखेत फ्रंटीयर मुख्यालय के जिम्मेदारी के क्षेत्र में क्लेफ्ट के मामले बहुत कम हैं . केवल 3 मामले ही प्रकाश में आए, जिनका कृष्णा अस्पताल हल्द्वानी में ऑपरेशन करवाया गया .

    एस.एस.बी. ने भारत-नेपाल तथा भारत-भूटान सीमा पर कुल 116 मरीज़ों का सफल ऑपरेशन करवाया है . वे सभी एक सामान्य जीवन व्यतीत कर रहे हैं तथा जीवन के प्रति उनका दृष्टिकोण सकारात्मक हो गया है .

    सभी फ्रंटीयर इस कार्य में पूरे उत्साह से लगे हैं और उनकी सभी यूनिट अर्थात बी ओ पी से लेकर फ्रंटीयर मुख्यालय तक सभी ऐसे मरीज़ों को पहचानने, उनका पंजीकरण कराने, उन्हें ऑपरेशन के लिए तयार करने तथा उनका ऑपरेशन करवाने के लिए कार्य कर रही हैं. फ्रंटीयर मुख्यालयों ने 2 टेलीफोन नम्बर इसी कार्य के लिए रखे हैं जिससे लोग सरलता से उनसे सम्पर्क कर सकें .

 

सारांश:-

क्रम सं.

फ्रंटीयर का नाम

वर्ष

इलाज किए गए मरीज़ों की संख्या

१.

रानीखेत फ्रंटीयर

2015

03

२.

लखनऊ फ्रंटीयर

2014

11

2015

29

३.

पटना फ्रंटीयर

2015

30

४.

सिलिगुड़ी फ्रंटीयर

2014

20

2015

09

५.

गुवाहाटी फ्रंटीयर

2015

14

                                     कुल

116



Back
Pay Tribute to Martyrs by Clicking Our Heroes Tab      SSB Helpline Number:- 1903 (Toll Free)      Recruitment Helpline Number:-(011) 26193929
india
आगंतुक संख्या : 7184864